Home राजनीति सामान्य केसीआर से मुलाकात के बाद बोले विजयन- क्षेत्रीय पार्टियों की केंद्र में होगी अहम भूमिका

केसीआर से मुलाकात के बाद बोले विजयन- क्षेत्रीय पार्टियों की केंद्र में होगी अहम भूमिका

आउटलुक टीम - MAY 07 , 2019
केसीआर से मुलाकात के बाद बोले विजयन- क्षेत्रीय पार्टियों की केंद्र में होगी अहम भूमिका
File Photo

लोकसभा चुनाव के लिए पांच चरणों में 424 सीटों पर मतदान हो चुका है। बाकी दो चरणों में 118 सीटों पर वोट डाले जाएंगे। इसी बीच गैर कांग्रेस-गैर बीजेपी गठबंधन की कवायद भी तेज हो गई है। थर्ड फ्रंट के लिए तेलंगाना के मुख्यमंत्री टीआरएस प्रमुख के चंद्रशेखर राव केसीआर ने मुलाकातों का दौर शुरू कर दिया है। इसी को लेकर केसीआर ने सोमवार को केरल के मुख्यमंत्री पिनरई विजयन से मुलाकात की। केसीआर ने विजयन से रात के खाने पर मुलाकात की। यह मुलाकात दो घंटे तक चली।

क्षेत्रीय पार्टियां निभाएंगी अहम भूमिका

सीएम विजयन ने कहा, ‘चंद्रशेखर राव के साथ बैठक महत्वपूर्ण थी। हमने राष्ट्रीय राजनीति के परिदृश्य पर चर्चा की। केसी राव के अनुसार, दोनों मोर्चों में से किसी को बहुमत नहीं मिल सकता है। इसलिए, क्षेत्रीय पार्टियां एक प्रमुख भूमिका निभाएंगी। हालांकि पीएम उम्मीदवार को लेकर कोई चर्चा नहीं हुई।‘

विजयन केरल में माकपा के नेतृत्व वाली एलडीएफ सरकार के प्रमुख हैं। कांग्रेस के नेतृत्व वाली यूडीएफ यहां विपक्ष में है। वहीं केसीआर और स्टालिन की मुलाकात को लेकर टीआरएस सांसद के. कविता ने बताया, ‘तेलंगाना सीएम केसीआर और डीएमके अध्यक्ष एमके स्टालिन के बीच अभी तक कोई मीटिंग तय नहीं हुई है।‘

थर्ड फ्रंट की कवायद में जुटे केसीआर

दरअसल, इससे पहले यह खबर थी कि केरल के बाद केसीआर चेन्नई का रुख करेंगे। केसीआर 13 मई को तमिलनाडु की मुख्य विपक्षी पार्टी डीएमके के अध्यक्ष एमके स्टालिन से मुलाकात करने वाले थे। तमिलनाडु में डीएमके और कांग्रेस गठबंधन कर चुनाव लड़ रही है। ऐसे में स्टालिन से केसीआर की चर्चा बहुत महत्वपूर्ण हो सकती थी। केसीआर के संपर्क में जेडीएस भी है। पिछले दिनों तेलंगाना के मुख्यमंत्री कार्यालय ने एक बयान में कहा था, जेडीएस नेता और कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने भी केसीआर से संपर्क किया है। कर्नाटक में कांग्रेस और जेडीएस गठबंधन की सरकार है और दोनों पार्टियां लोकसभा चुनाव भी साथ में लड़ रही हैं।

लोकसभा चुनाव के लिए मतदान शुरू होने बाद पहली मुलाकात

जानकारी के मुताबिक, स्टालिन की तरह ही कांग्रेस के एक और सहयोगी भी केसीआर के संपर्क में हैं। कर्नाटक के मुख्यमंत्री और जनता दल सेकुलर के नेता एचडी कुमारस्वामी ने सोमवार को केसीआर से फोन पर बात की और केरल व तमिलनाडु के बारे में चर्चा की। हालांकि, केसीआर ने अभी तक समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी, बीजू जनता दल व वाईएसआर कांग्रेस से बात की है या नहीं, इसे लेकर कोई जानकारी सामने नहीं आई है।

गैर-कांग्रेस, गैर-भाजपा सरकार को लेकर बातचीत

लोकसभा चुनाव के लिए 11 अप्रैल को मतदान शुरू होने के बाद किसी गैर-भाजपा और गैर-कांग्रेस नेता से केसीआर की पहली मुलाकात है। हालांकि ऐसा पहली बार नहीं है जब केसीआर ने विपक्ष के नेताओं से संपर्क किया है। चुनाव से पहले भी केसीआर ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, जेडीएस प्रमुख एचडी देवगौड़ा, डीएमके अध्यक्ष एमके स्टालिन, टीएमसी अध्यक्ष ममता बनर्जी, समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव, बीजेडी अध्यक्ष नवीन पटनायक से मुलाकात की थी। सभी मुलाकातों में गैर-कांग्रेस और गैर-बीजेपी गठबंधन पर चर्चा हुई।

अब आप हिंदी आउटलुक अपने मोबाइल पर भी पढ़ सकते हैं। डाउनलोड करें आउटलुक हिंदी एप गूगल प्ले स्टोर या एपल स्टोर से